Jobrika

A Platform of Your dreams..... job | exam | study material

Note: For latest job updates and study materials | Subscribe us | Visit Blackboard for e-learning

रूढ़ शब्द | यौगिक शब्द | योगरूढ़ शब्द | रचना के आधार पर शब्द के भेद | rudh shabd | yogrudh shabd | yaugik shabd | hindi grammar | jobrika


रूढ़ शब्द | यौगिक शब्द | योगरूढ़ शब्द | रचना के आधार पर शब्द के भेद | rudh shabd | yogrudh shabd | yaugik shabd | hindi grammar | jobrika 

रूढ़ शब्द, यौगिक शब्द, योगरूढ़ शब्द

रचना के आधार पर शब्द के निम्नलिखित तीन भेद होते हैं:

1.   रूढ़ शब्द
2.   यौगिक शब्द
3.   योगरूढ़ शब्द
1. रूढ़ शब्द :
ऐसे शब्द जो किसी विशेष अर्थ को प्रकट करते हैं लेकिन अगर उनके टुकड़े कर दिए जाएँ तो निरर्थक हो जाते हैं। ऐसे शब्दों को रूढ़ शब्द कहते हैं। दूसरे शब्दों में कहें तो ये शब्द हमेशा सार्थक होते हैं और केवल एक ही अर्थ को दर्शाते हैं| 

सरल शब्दों में- जिन शब्दों के खण्ड सार्थक न हों, उन्हें 'रूढ़' कहते है। 
इन शब्दों के खंड करने पर इनका कोई अर्थ नहीं निकलता यानी खंड करने पर ये शब्द अर्थहीन हो जाते हैं ;
जैसे- 'नाक' शब्द का खंड करने पर 'ना' और '', दोनों का कोई अर्थ नहीं है।
उसी तरह 'कान' शब्द का खंड करने पर 'का' और '', दोनों का कोई अर्थ नहीं है।
जैसे: जल, कल, जप आदि।

2. यौगिक शब्द
ऐसे शब्द जो किन्हीं दो सार्थक शब्दों के मेल से बनते हों वे शब्द यौगिक शब्द कहलाते हैं। इन शब्दों के खंड भी सार्थक होते हैं। 
ये शब्द हमेशा ही किन्ही दो शब्दों के मेल से बने होते हैं| कहने का अर्थ यह है कि ये सार्थक तो होते हैं लेकिन ये सार्थक शब्दों का मेल होते हैं
दूसरे शब्दों में- ऐसे शब्द, जो दो शब्दों के मेल से बनते है और जिनके खण्ड सार्थक होते है, यौगिक कहलाते है।

'यौगिक' यानी योग से बनने वाला। वे शब्द जो दो या दो से अधिक शब्दों के योग से बनते हैं, उन्हें यौगिक शब्द कहते हैं।
यहाँ प्रत्येक शब्द के दो खण्ड है और दोनों खण्ड सार्थक है। 
उदाहरणतः कर्जदार
कर्जदार = कर्ज़ + दार 
यहां यह देखा जा सकता है कि कर्ज़ और दार का निजी तौर पर भी अपना एक अर्थ है लेकिन उन्हे मेल करने पर भी एक अर्थ निकलता है
जैसे: स्वदेश : स्व + देश, देवालय : देव + आलय, कुपुत्र : कु + पुत्र आदि।
इन्हें भी जरूर पढ़ें -

संज्ञा की परिभाषा एवं भेद (TRICK)

सर्वनाम की परिभाषा एवं भेद (TRICK)

विशेषण : परिभाषा, भेद एवं उदाहरण (TRICK)

अलंकार की परिभाषा एवं भेद (TRICK)

वचन की परिभाषा और भेद (TRICK)

संधि की परिभाषा और उसके भेद (TRICK)

तत्सम - तद्भव शब्द परिभाषा और उदाहरण (TRICK)

हिंदी के प्रसिद्ध कवि एवं उनकी रचनाएँ (TRICK)

महत्वपूर्ण पर्यायवाची शब्द (TRICK)

3. योगरूढ़ शब्द
ऐसे शब्द जो किन्हीं डो शब्द के योग से बने हों एवं बनने पर किसी विशेष अर्थ का बोध कराते हैं, वे शब्द योगरूढ़ शब्द कहलाते हैं। 
अथवा- ऐसे यौगिक शब्द, जो साधारण अर्थ को छोड़ विशेष अर्थ ग्रहण करे, 'योगरूढ़' कहलाते है।

दूसरे शब्दों में- योग + रूढ़ यानी योग से बने रूढ़ (परंपरा) हो गए शब्द। वे शब्द जो यौगिक होते हैं, परंतु एक विशेष अर्थ के लिए रूढ़ हो जाते हैं, योगरूढ़ शब्द कहलाते है।
मतलब यह कि यौगिक शब्द जब अपने सामान्य अर्थ को छोड़ विशेष अर्थ बताने लगें, तब वे 'योगरूढ़' कहलाते है। 
जैसे- लम्बोदर, पंकज, दशानन, जलज इत्यादि ।
लम्बोदर =लम्ब +उदर बड़े पेट वाला )=गणेश जी
दशानन =दश +आनन (दस मुखों वाला _रावण)
'
पंक +ज' अर्थ है कीचड़ से (में) उत्पत्र; पर इससे केवल 'कमल' का अर्थ लिया जायेगा, अतः 'पंकज 'योगरूढ़ है। 
ट्रिक - बहुव्रीहि समास के समस्त उदहारण इसके योगरूढ़ (yogrudh shabd) शब्दों के अंतर्गत आते हैं |

हिंदी ट्रिक ( HINDI TRICK ) के सभी विडियो देखने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें - https://www.youtube.com/playlist?list=PLtUfPGwAgRr--Zb93xnpTD0jjQF-Fmbi8

हिंदी प्रैक्टिस सेट ( PRACTICE SET ) के सभी विडियो देखने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें - https://www.youtube.com/playlist?list=PLtUfPGwAgRr8xD6uyWCySih_vr7oWMWtx

Hope this article ‘रूढ़ शब्द | यौगिक शब्द | योगरूढ़ शब्द | रचना के आधार पर शब्द के भेद | rudh shabd | yogrudh shabd | yaugik shabd | hindi grammar | jobrika ’ was helpful for you.
JOBRIKA provides and notify you the latest job from all sectors so stay connected with us. Don’t forget to share, comment and subscribe us.
Click the link to go to the main Website  -  https://www.jobrika.com/




























रूढ़ शब्द | यौगिक शब्द | योगरूढ़ शब्द | रचना के आधार पर शब्द के भेद | rudh shabd | yogrudh shabd | yaugik shabd | hindi grammar | jobrika | यौगिक शब्द,योगरूढ़ शब्द,शब्द भेद,रूढ़ शब्द,हिन्दी व्याकरण,हिंदी व्याकरण,यौगिक,योगरूढ़ शब्द,शब्द विचार,शब्द के भेद,रूढ़ यौगिक तथा योगरूढ़ शब्द,रूढ़ शब्द,शब्द रचना,हिंदी,योगरूढ़ | 

रूढ़ शब्द | यौगिक शब्द | योगरूढ़ शब्द | रचना के आधार पर शब्द के भेद | rudh shabd | yogrudh shabd | yaugik shabd | hindi grammar | jobrika | यौगिक शब्द,योगरूढ़ शब्द,शब्द भेद,रूढ़ शब्द,हिन्दी व्याकरण,हिंदी व्याकरण,यौगिक,योगरूढ़ शब्द,शब्द विचार,शब्द के भेद,रूढ़ यौगिक तथा योगरूढ़ शब्द,रूढ़ शब्द,शब्द रचना,हिंदी,योगरूढ़ | 

रूढ़ शब्द | यौगिक शब्द | योगरूढ़ शब्द | रचना के आधार पर शब्द के भेद | rudh shabd | yogrudh shabd | yaugik shabd | hindi grammar | jobrika | यौगिक शब्द,योगरूढ़ शब्द,शब्द भेद,रूढ़ शब्द,हिन्दी व्याकरण,हिंदी व्याकरण,यौगिक,योगरूढ़ शब्द,शब्द विचार,शब्द के भेद,रूढ़ यौगिक तथा योगरूढ़ शब्द,रूढ़ शब्द,शब्द रचना,हिंदी,योगरूढ़ | 

रूढ़ शब्द | यौगिक शब्द | योगरूढ़ शब्द | रचना के आधार पर शब्द के भेद | rudh shabd | yogrudh shabd | yaugik shabd | hindi grammar | jobrika | यौगिक शब्द,योगरूढ़ शब्द,शब्द भेद,रूढ़ शब्द,हिन्दी व्याकरण,हिंदी व्याकरण,यौगिक,योगरूढ़ शब्द,शब्द विचार,शब्द के भेद,रूढ़ यौगिक तथा योगरूढ़ शब्द,रूढ़ शब्द,शब्द रचना,हिंदी,योगरूढ़ | 

1 comment:

close